Type Here to Get Search Results !

माँ से बढ़कर नहीं है कोईदुनिंया में भगवानईनकी सेवा करो हमेशायही है तिरथ धाम_premi

माँ ही तिरथ धाम
*************

माँ से बढ़कर नहीं है कोई
दुनिंया में भगवान
ईनकी सेवा करो हमेशा
यही है तिरथ धाम

जन्म दिया पाला पोषा 
कष्टों से तुम्हें बचाया है
आगे बढ़ने का जीवन में
जिसने राह दिखाया है
इनकी पूजा करो हमेशा
बनेंगे बिगड़े काम
इनकी सेवा-----------
यही है-----------

माँ से तेरा सृजन हुआ
पालनकर्ता भी माता है
प्रथम गुरु भी माता तेरी
माँ ही भाग्य विधाता है
नहीं अनादर कर माँ का
ना खुद पर करो गुमान     
इनकी सेवा----------
यही है--------------

माँ से---------------
दुनिया--------------
इनकी सेवा---------
यही है----------------

गीतकार--प्रेमशंकर प्रेमी( रियासत पवई )औरंगाबाद

Post a Comment

0 Comments
* Please Don't Spam Here. All the Comments are Reviewed by Admin.